सुप्रीम कोर्ट के वकिल ने कहा फस जाएगी आरती और परिवार बच जाएगा

सुप्रीम कोर्ट के वकिल ने कहा फस जाएगी आरती और परिवार बच जाएगा…

Admission

सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बन चुके बिहार के छोटू यादव और आरती यादव की कहानी के बारे में तो आप जानते ही होंगे.अररिया के रानीगंज थाना क्षेत्र के बरोवा निवासी धीरेंद्र यादव और 19 साल की आरती- रहारिया गांव के छोटू यादव की बूढ़ी बेटी काफी देर से फोन पर बात कर रही थी।

खबरों के मुताबिक आरती का भाई छोटू यादव से परिचित था, जिसके चलते आरती और छोटू बात करने लगे जिसके बाद दोनों में प्यार हो गया और दोनों ने एक दूसरे से मिले बिना ही शादी करने का फैसला कर लिया इस बात की जानकारी परिजनों को हुई तो उन्होंने विरोध किया।

लेकिन लड़की के मुताबिक 5 जुलाई को परिवार ने छोटू को घर बुलाकर शादी के बारे में बात करने को कहा.उसके बाद जब छोटू घर आया तो उसके भाई ने उसकी पिटाई कर दी. और पिता एक कमरे में।आरती भी कमरे में ही रह गई थी।

रिपोर्ट के मुताबिक छोटू के नाखून भी निकाले गए थे, इतना ही नहीं उसके शरीर पर जलने के निशान थे. हालांकि इसके बाद वहां पहुंचे लोग छोटू को अस्पताल ले गए.आरती भी अस्पताल पहुंची, जिसके बाद उसके प्रेमी की हत्या के लिए उसके माता-पिता, भाई को जिम्मेदार बताया गया।

फिलहाल आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, लेकिन एक तरफ लड़की ने न्याय के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाने का फैसला किया है. उधर, सुप्रीम कोर्ट के वकील एमएल शर्मा ने कहा कि लड़की ने झूठे आरोप लगाए हैं उन्होंने कहा कि कोई भी परिवार शादी की बात करने के लिए रात के 2 बजे फोन न करे।

युवक लड़की से संबंध बनाने आया होगा। उसने युवक को घर आकर परिवार को मारने के लिए कहा होगा। लेकिन वह इस योजना में विफल रहा। जिसके बाद लड़की ने परिवार पर आरोप लगाया। उसने उनसे कहा कि लड़की के परिवार को किसी भी सजा का सामना नहीं करना पड़ेगा क्योंकि अदालत सबूतों पर विश्वास करती है।